RSS

Category Archives: classical music

Happy Mothers Day Maa

Happy  Mothers Day Maa

Happy Happy Mother Day … Maa….
Meri Maa ka Aansh -Vansh barkrar rahe..
Tere dua -dular hum pe beshumar rahe..
Tera diye Hum me sda hi Sanskar rahe..
Happy Mother Day you hi bar bar kahe

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

झाड़ू केजरीवाल की सफाईपसंद है

झाड़ू केजरीवाल की सफाईपसंद है

 

बस इतना तू याद कर

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Status

Cry for life

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Vidai shiksha

 

Tags:

Image

भारतीय कला लाजवाब है | Hindi Poetry World

https://hindipoetryworld.wordpress.com/2015/11/07/%e0%a4%ad%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a4%a4%e0%a5%80%e0%a4%af-%e0%a4%95%e0%a4%b2%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%a

image

e%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%b9%e0%a5%88/

 

Tags: , , , , ,

Image

अाईना भी दे दाद कला की

आईना कभी भी झूठ न बोले
दे दुआए ,कला को हौले -हौले
कत्थक देख मोरा मनवा डोले
कला रुह के बंद कपाट खोले

image

 

Tags: , , , , ,

Quote

भारतीय संस्कृति की रुह कला है ।
विभिन्नताओ का खूब रंग चढ़ा है ।
नृत्य से मिलती है खुराक रुहानी ।
हर विधा है बेहद सभ्य – सुहानी।
कत्थक पे थिरक रही गिद्दे की रानी ।
अनेकता में एकता कला की मेहरबानी ।

image

हर कला की अपनी अदा

 

Tags:

मां के क्या कहने, रब्बा !

मा की क्या रीस करेगा तू जमाने।
मां ही तो दे सांसो के खजाने।
दरद करती सब अपने हिस्से।
इतिहास गवाह है, महान है किस्से ।
मां तो बस देना ही देना जाने ।
औलाद की खातिर सह ले ताने ।
दरद में भी रहकर , है दुआए देती ।
औलाद के खंजर ,चुपचाप है सहती।
ममता का मोती ,शीतल सी ज्योति
बालक कलयुगी हो जाये कितने बेशक
मां सदा पावनी सतयुगी गंगा सी बहती

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , ,

मीठा अहसास

मीठा अहसास मीठे अश्क लाता है
हो भीगी पलके ,तब भी मन गाता है
लगे सब अपने, नये सपने जगाता है
जीते जी जन्नते ए नजारा महकाता है
  खूब मुस्काने बांटने को जी चाहता है

 

Tags:

#peace of mind

एक का तेईस (23) मायने
गर 1   hour God  को दोगे
God 23 hours charged  रखेगा
आनंदित जीवन,पावन मन रहेगा

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , ,

Image

सुन समधन सुन समधन की धुन

image

Rajni Vijay Singla

 

रब को बना ले मितवा

रब से बड़ा  कोई मीत नही
अरदास से बेहतर गीत नही
याद तो करके देख जरा
कर देगा तुझे हरा भरा
खुदाई से उसकी प्यार कर
दिल से जरा फरियाद कर
हर रुह में  वही तो बसता है
इंसानियत हंसे तो संग हंसता है
शुभ करमन सच्ची इबादत है
बुराई का संग,खुदाये- बगावत है

Rajni Vijay Singla

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , ,

तेरी याद ने बना दी ज़िंदगी

जब लबो पे तेरा नाम आ गया
रूह को सुकून ,चैन,आराम  आ गया
तेरी याद से मुस्कान  जो आई
दिले बेकरारी गुमशुदा हो गई
छलके जो अश्क थे वो खुशी के
दरद की रात  जेसै जुदा  हो गई
मैं मैं न रहा, तू ही तू हो गया
सांस सांस मेरी खुदा हो गई
जिंदगी मेरी हसीन दुआ हो गई
मुशिकलें  सारी धुंआ -धुंआ हो गई

Rajni Vijay Singla

 

Tags: , , , , , , , , , , ,

मान ले मेरी बात

जमीं पे रहके भी आसमांवाला मिल गया होता
जमीं वालो से ही गर बंदे तूने प्यार किया होता
नही भटकना पड़ता मंदिर मस्जिद मे तुझको
खुद मे ही खुदा को गर तलाश किया होता

Rajni Vijay Singla

 

Tags: , , , , , , , , ,

 
%d bloggers like this: