RSS

Category Archives: poetry

मां तो इक दुआ है ।

मां का दिल होता मोम सा । आंचल होता आसमान सा । सूरत होती इक फरिश्ते सी । मुकाम बिल्कुल भगवान सा ।…

Source: मां तो इक दुआ है ।

 
Leave a comment

Posted by on May 9, 2016 in poetry

 
Image

भारतीय कला लाजवाब है | Hindi Poetry World

https://hindipoetryworld.wordpress.com/2015/11/07/%e0%a4%ad%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a4%a4%e0%a5%80%e0%a4%af-%e0%a4%95%e0%a4%b2%e0%a4%be-%e0%a4%95%e0%a4%a

image

e%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%b9%e0%a5%88/

 

Tags: , , , , ,

Chat

मां की दुआए कबूल कर दे

  दरद के पहाड़ सब पल में ही तू धूल  कर दे ।
चुभने से पहले ही हर शूल को तू फूल कर दे।
बुलंदियो में, हे रब्बा ! बच्चे  तू मशगूल कर दे।
हर तमन्ना ,हर दुआ, हर  मां की कबूल कर दे ।
उनकी मासूम गलतियां भूलने की भूल कर दे ।
मदर डे पे, खुदा खुद को इतना मशहूर कर दे ।

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , ,

Chat

मां की दुआए कबूल कर ले

  दरद के सब पहाड़ पल में ही तू धूल  कर दे ।
चुभने से पहले ही हर शूल को तू फूल कर दे।
बुलंदियो में, हे रब्बा ! बच्चे  तू मशगूल कर दे।
हर तमन्ना ,हर दुआ, हर  मां की कबूल कर दे ।
उनकी मासूम गलतियां भूलने की भूल कर दे ।
मदर डे पे, मां सा ही खुद को मशहूर कर दे ।

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , ,

मां तो इक दुआ है ।

मां का दिल होता मोम सा ।
आंचल होता आसमान सा ।
सूरत होती इक फरिश्ते सी ।
मुकाम बिल्कुल भगवान सा ।

 

Tags: , ,

Image

नारी सशक्तीकरण की प्यास बुझी अब

image

 

Tags: ,

Image

अाईना भी दे दाद कला की

आईना कभी भी झूठ न बोले
दे दुआए ,कला को हौले -हौले
कत्थक देख मोरा मनवा डोले
कला रुह के बंद कपाट खोले

image

 

Tags: , , , , ,

 
Follow

Get every new post delivered to your Inbox.

Join 352 other followers

%d bloggers like this: