RSS

Category Archives: poetry

दरद से निजात

खुदा ही केवल दरद से निजात दे सकता है
दुआए ,दरद को काफी हद कम कर सकती है
खुदा की बंदगी,, बंदे को हौंसले दे सकती है खुदा के इंसाफ में बस विश्वास बनाये रखे
दरद रफ्ता-रफ्ता रफूचक्कर हो ही जायेगा
खुदा के बेहद करीब ले जायेगा तोहे बंदे
खुद ब खुद छुट जायेगे माड़े सब धंधे

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

क्या होती खुशनसीबी ?

दरद देखा करीब से शमशान -अस्पताल में
क्या – क्या देखा, बस कहा न जाये
भूख की आग, कहर कितना ?कैसे कैसे ढाये फैले हाथ, बिलखता बचपन, मजबुर जवानी
दुत्कारा बुढ़ापा, छुपा दरद, सिसकते साये
अश्क भी तौबा कर ले, गम इतना सताये
जहुन्नम ऐ नजारा इसी जमीं पे ही दिखाये
हर नेमत के होते जो रब को दे सौ लानते
खुशनसीबी उसकी , चौखट ही छोड़ जाये
मनजीत जगजीते ही खुशनसीब कहलाये
दरद मे करे अरदास,सुख में शुकराना गाये
खुशियां उसको खुद ही आवाज लगाये

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

#peace of mind

एक का तेईस (23) मायने
गर 1   hour God  को दोगे
God 23 hours charged  रखेगा
आनंदित जीवन,पावन मन रहेगा

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , ,

काश ! Partusha( Anandi) Sister Shivani से मिल लेती

जिंदगी का बस एक पहलू देखा
तभी तोड़ डाली खुद जीवन रेखा
Reel life की बहादुर वधु अानंदी
विदाई बेला से पहले ही विदा हो गई
आत्मबल के गीत गुणगनाने वाली
हाय ! कैसे अात्महत्या पे फिदा हो गई ?
किसी से तो कहती , अपनी मन की बात
शायद रोक लेता ,जगाकर जीवन जज़बात
बेवफाई मायने जिंदगी का अंत नही होता
हर रिश्ता -साथी , फरिश्ता या संत नही होता
काश ! Bk Sister Shivani से मिल लेती
मुरझा गई जो कली ,रुहे आनंद मे खिल लेती
झटक कमजोर पल ,रुहे कसक को छल देती
भूलके अतीत काला, खुद को उजला कल देती
Real life को भी Reel life सा ही हल देती

 

Tags: , , , , , , , , , , , , ,

पुण्य अपुन को पचे न यार

पुण्य से कोई नाता नही
मैं को कभी छोड़ा नही
खुदा माना खुद को सदा
खुद को खुदा से जोड़ा नही
दीनो को सताने का जूनून है
अपनी सलतन्त , अपना कानून है
रंगीनियां बिखेरती हर शै मदहोश है
पाप की जमीं ,पुण्य का किसे होश है ?

Rajni Vijay Singla

 

Tags:

कुदरत तेरे रंग ,कर जाते हैं दंग

image

Rajni Vijay Singla

 

Tags:

साथी जिसका खुदा , दरद रहे जुदा

Rajni Vijay Singla

Source: साथी जिसका खुदा , दरद रहे जुदा

 
Leave a comment

Posted by on March 22, 2016 in poetry

 
 
Follow

Get every new post delivered to your Inbox.

Join 322 other followers

%d bloggers like this: