RSS

Tag Archives: fun

मुबारक मुबारक मुबारक

मुबारक !मुबारक! मुबारक!मुबारक ।
भक्त को भगवान का दुलार मुबारक ।
भूखे को रोटी,  अधनंगे को कपड़ा
प्यासे को पानी की धार मुबारक ।
खेतों को बरखा की बहार मुबारक ।
दिल को प्यार का इज़हार मुबारक । 
सरहदों को अमन ऐ एतबार मुबारक ।
राही को मंजिल की पुकार मुबारक ।
योद्धा को धनुष – तलवार मुबारक ।
जंगलो को हरियल सा हार मुबारक ।
मुसाफिर को पेड़ की छांव मुबारक । 
भारत को स्वच्छता का पैगाम मुबारक ।
किसान को अनाज का दाम मुबारक ।
पंछी को अपना दाना-पानी मुबारक ।
बचपन को नानी की कहानी मुबारक ।
मरते को स्वस्थ जिंदगानी मुबारक ।
सुबह के भूले को  है शाम मुबारक ।
आंचल मे बेटी,  हर अंगना में पौधे ,
मां भारती को ऐसी शान मुबारक ।

Advertisements
 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

राखी आई रे . . फौजी भाई रे . .

राखी आई रे . . राखी आई रे ;

बहनों  ने आवाज़ लगाई  रे . . 

बड़े दिनों के बाद. .  फौजी भाइयों के साथ;

 वतन की खुशबु आई रे . . 

राखी आई रे … राखी आई रे. . .

लौटा जब राखी पर भैया . .

हारे थके न माँ ; ले ले बलैया 

एक नें जन्मा, एक पे वारी ; 

दो मैया भैया है थारी 

धरती माँ कितनी है प्यारी रे 

राखी आई रे… राखी आई रे..

पुनिया टीका लगा दू आ भैया 

कलाई पे प्रेम सजा दू आ भैया 

उपहार में लायी बूटा मै ऐसा 

हरा भरा रहे वतन भे वैसा 

शांति हरयाली में समाई रे 

राखी आई रे.. राखी आई रे..

तोड़ के तु अपनों के सपने 

नाम जिंदगी वतन के अपने 

तुम्हे मुबारक अरदास दुआएं

बुरी नज़र से खुदा बचाए 

सच्चे राखी तो है , फौजी भाई रे 

राखी आई रे . . राखी आई रे. . 

बड़े दिनों के बाद, फौजी भाइयों के साथ 

वतन की खुशबु आई रे .  .  . 

 

 
Leave a comment

Posted by on August 11, 2013 in poetry

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Image

baishakhi hai aai

baishakhi hai aai

 
1 Comment

Posted by on April 16, 2013 in poetry

 

Tags: , , , , , , , , , ,